Flipkart Deal of the Day

खचाखच भरे हैं रिम्स के न्यूरो वार्ड

Feb 03:

रांची। रिम्स के न्यूरो वार्ड इन दिनों मरीजों से खचाखच भरे हैं। मरीजों की तुलना में बेड कम होने के कारण फर्श पर बिस्तर लगाकर कई मरीजों का इलाज करना पड़ रहा है। इससे इलाज करनेवाले डाक्टरों और नर्सो के साथ परिजनों को भी परेशानी हो रही है।

विभाग के न्यूरो सर्जन डा. सीबी सहाय ने बताया कि अधिकतर भर्ती मरीज सड़क दुर्घटानाओं में घायल हैं। यहां पर सी और डी टू वार्ड मिलाकर 108 बेड हैं। न्यूरो सी आईसीयू ए में 24 बेड, बी में नौ, एचडीयू में नौ और आईसीसीयू में नौ बेड हैं। डी टू वार्ड के ए में 24 बेड, बी वार्ड में 24 और सी वार्ड में नौ बेड हैं।

विभाग की नसरें के अनुसार इस वार्ड में स्वीकृत 108 बेड हैं, लेकिन फिलहाल सी और डी वार्ड मिलाकर कुल 177 मरीज भर्ती हैं।

न्यूरो विभाग में चार वरीय चिकित्सक हैं- डा. सीबी सहाय, डा. अनिल कुमार, डा. केएम झा और डा. थामस मिंज हैं। इनके अलावा पीजी चिकित्सक भी हैं।

डा. सहाय ने बताया कि रिम्स का न्यूरो विभाग झारखंड क्षेत्र का एकमात्र केंद्र है, जहां सिर एवं दिमाग संबंधी बीमारियों का इलाज बेहतर ढंग से किया जाता है। इस कारण यहां दूर-दराज से आए रोगियों की भीड़ लगी रहती है। यह एक अति संवेदनशील विभाग है, जहां रोगियों की विशेष देख-भाल की जरूरत पड़ती है। उचित देख-भाल के लिए मरीजों को लंबे समय तक रखने की आवश्यकता पड़ती है।source

Post a Comment
All Rights Reserved
Contact Us